आपकी उपयोगी रचनाओं एवं टिप्पणियों का स्वागत है.

उपयोगी सूचना

हिन्दी भाषा के समाचारपत्र तथा पत्रिकाएं यदि अपने प्रकाशनों के लिए ‘मीडिया केयर नेटवर्क’, ‘मीडिया एंटरटेनमेंट फीचर्स’ तथा ‘मीडिया केयर न्यूज’ की सेवाएं नियमित प्राप्त करना चाहें तो हमसे ई-मेल द्वारा सम्पर्क करें। आपके अनुरोध पर सेवा शुल्क संबंधी तथा अन्य अपेक्षित जानकारियां उपलब्ध करा दी जाएंगी।

हम इन फीचर एजेंसियों के डिस्पैच में निम्नलिखित विषयों पर रचनाएं प्रसारित करते हैं तथा डिस्पैच कोरियर अथवा ई-मेल द्वारा उपलब्ध कराए जाते हैं:-

राजनीतिक लेख, रिपोर्ट एवं विश्लेषणात्मक टिप्पणी, राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय चर्चा, सामयिक लेख, फिल्म लेख एवं स्टार इंटरव्यू, फिल्म गॉसिप, ज्ञानवर्द्धक एवं मनोरंजक लेख, रहस्य-रोमांच, घर परिवार, स्वास्थ्य, महिला जगत, युवा जगत, व्यंग्य, कथा-कहानी, मनोरंजन, कैरियर , खेल, हैल्थ अपडेट, खोज खबर, महत्वपूर्ण दिवस, त्यौहारों अथवा अवसरों पर लेख, बाल कहानी, बाल उपयोगी रचनाएं, रोचक जानकारियां इत्यादि।

लेखक तथा पत्रकार विभिन्न विषयों पर अपनी उपयोगी अप्रकाशित रचनाएं प्रकाशनार्थ ई-मेल द्वारा भेज सकते हैं।
Share/Bookmark

अभी तक यहां आए पाठक

Saturday, November 27, 2010

पंखों वाली गाय !


यह दृश्य देखकर चौंक गए न आप!

आपका चौंकना स्वाभाविक ही है क्योंकि अभी तक आपने किसी गाय के शरीर पर इतने बड़े-बड़े पंख कभी देखे नहीं होंगे। जी नहीं, यह जादुई कथानक हैरी पॉटर की फिल्मों वाली पंखों वाली कोई जादुई गाय नहीं है बल्कि यह एक साधारण गाय है।

साधारण गाय और वो भी पंखों वाली! बात कुछ हजम नहीं हुई न!
तो चलिए सस्पैंस खत्म करते हुए आपको बता ही दें कि इस चित्र में दिखाई दे रही गाय के शरीर पर कोई पंख नहीं उगे हैं बल्कि बड़े-बड़े जो पंख दिखाई दे रहे हैं, वे विश्व के सबसे बड़े पक्षी ‘सारस’ के हैं, जो इस गाय का पीछा कर रहा है। इस चित्र को जरा ध्यान से देखें, एक सारस इस गाय का पीछा करता नजर आएगा।

इस अद्भुत दृश्य को एक फोटोग्राफर ने कोएलाडियो नेशनल पार्क में अपने कैमरे में कैद किया।

प्रस्तुति : मीडिया केयर ग्रुप ब्यूरो

4 comments:

chooti baat said...

photo graphar ki tareef karni padegi sahab

PN Subramanian said...

अपने यहाँ कामधेनु के शायद पंख हुआ करते थे. सुन्दर प्रस्तुति.

योगेश कुमार गोयल said...

Thanks for comments.

शारदा अरोरा said...

ohhh...

समय बहुमूल्य है, अतः एक-एक पल का सदुपयोग सार्थक कार्यों में करें.